Uttar Pradesh Exclusive > राजनीती > बिहार चुनाव: BJP ने कोरोना टीका को बनाया चुनावी मुद्दा, घोषणा पत्र में मुफ्त देने का किया ऐलान

बिहार चुनाव: BJP ने कोरोना टीका को बनाया चुनावी मुद्दा, घोषणा पत्र में मुफ्त देने का किया ऐलान

0
211
  • बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर भाजपा ने जारी किया चुनावी घोषणा पत्र
  • भाजपा ने शिक्षा स्वास्थ और बेरोजगारी पर दिया जोर
  • 1 करोड़ महिलाओं को स्वावलंबी बनाने का दावा
  • बिहार को आईटी हब के रूप में विकसित करने का दावा

बिहार विधानसभा चुनाव के पहले कांग्रेस के बाद अब भाजपा ने भी अपने चुनावी घोषणा पत्र का ऐलान कर दिया है. बिहार विधानसभा चुनावी के चरण की वोटिंग 28 अक्टूबर को होगा.

चुनाव से बिल्कुल पहले जनता को लुभाने के लिए राजनीतिक पार्टियों ने वादों की लंबी चौड़ी फेहरिस्त जनता के सामने रखा दिया है.

इस बीच एनडीए की सहयोगी पार्टी भाजपा ने चुनाव को मद्देनजर रखते हुए अपना घोषणा पत्र जारी किया है. भाजपा ने अपने चुनावी घोषणा पत्र को बिहार विकास संकल्प पत्र नाम दिया है.

भाजपा ने कोरोना टीका को बनाया चुनावी मुद्दा

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण और भूरेंद्र यादव जैसे कई नेताओं के बीच भाजपा ने पटना में अपना घोषणा पत्र जारी किया. भाजपा ने घोषणा पत्र में 11 बड़े संकल्प लिए हैं. जिसे सत्ता में आने के बाद पूरा करने का वादा किया गया है.

लेकिन सबसे खास बात यह रही है कि भाजपा ने कोरोना के टीका को भी चुनावी मुद्दा बना लिया है.

पत्र में दावा किया गया है कि हर बिहारवासी को कोरोना वैक्सीन का निशुल्क टीकाकरण करवाया जाएगा.

इस मौके पर वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि जब तब कोरोना की वैक्सीन नहीं आ जाती तबतक मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग ही एक वैक्सीन है.

उन्होंने दावा किया कि जैसे भी बाजार में कोरोना की वैक्सीन आएगी उसका बड़ा स्टोक भारत के लिए मंगवाया जाएगा.

भाजपा के चुनावी घोषणा पत्र का दावा

कोरोना का मुफ्त टीका
3 लाख शिक्षकों की नियुक्ति
अगली पीढ़ी के लिए बिहार को आईटी हब के रूप में विकसित करने का दावा
1 करोड़ महिलाओं को स्वावलंबी बनाने का दावा
स्वस्थ सुविधा के लिए दरभंगा में एम्स अस्पताल
स्वस्थ विभाग में 1 लाख लोगों को नौकरी
किसानों की फसल को एम एस पी दरों पर खरीदने का दावा
2022 तक बिहार के 30 लाख लोगों को पक्का मकान का वादा