Uttar Pradesh Exclusive > उत्तर प्रदेश > यूपी बोर्ड का सिलेबस भी होगा 30% कम, योगी सरकार ने किया ऐलान

यूपी बोर्ड का सिलेबस भी होगा 30% कम, योगी सरकार ने किया ऐलान

0
257

हाल ही में केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने कोरोना के कारण पैदा हुई छात्रों पर शिक्षा के बोझ को कम करने के लिए अपने सिलेबस में 30 फीसदी कटौती करने का फैसला किया था. अब उत्तर प्रदेश सरकार ने माध्यमिक शिक्षा परिषद यानी यूपी बोर्ड के सिलेबस में भी 30 फीसदी की कटौती का फैसला किया है. योगी सरकार ने कोरोना महामारी से छात्रों पर से पाठ्यक्रम का बोझ कम करने के लिए ये फैसला लिया है.

उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री और माध्यमिक शिक्षा मंत्री डॉक्टर दिनेश शर्मा ने बताया कि कोरोना वायरस महामारी को देखते हुए सत्र को नियमित करने के लिए सरकार ने माध्यमिक शिक्षा परिषद के पाठ्यक्रम को 30 प्रतिशत कम करने का अहम फैसला किया है. उन्होंने कहा कि बचे हुए 70 प्रतिशत पाठ्यक्रम को तीन भागों में विभाजित करते हुए कक्षाएं संचालित की जाएंगी.

वीडियो बनाकर दूरदर्शन पर होगा प्रसारित

दिनेश शर्मा ने आगे बताया कि पहले भाग में पाठ्यक्रम का वह भाग होगा जिसको कक्षावार, विषयवार और अध्यायवार वीडियो बनाकर आनलाइन पढ़ाया जाएगा और स्वयंप्रभा चैनल एवं यूपी दूरदर्शन पर प्रसारित किया जाएगा. दूसरे भाग में पाठ्यक्रम का वह भाग होगा, जिसे छात्र खुद पढ़ सकेंगे. वहीं, तीसरे भाग में पाठ्यक्रम का वह भाग होगा जो प्रोजेक्ट वर्क के माध्यम से छात्रों द्वारा किया जा सकता है.

माहवार वार्षिक एकेडमिक कैलेंडर बनेगा

उपमुख्यमंत्री ने बताया कि माध्यमिक शिक्षा विभाग में हम 10 महीने पहले ही शैक्षिक पंचांग जारी कर देते हैं, मगर कोरोना वायरस महामारी की वजह से यह निर्णय लेना पड़ा है. उन्होंने कहा कि विषय विशेषज्ञों द्वारा शैक्षिक पंचांग के अनुसार शैक्षिक एवं अन्य शैक्षणिक गतिविधियों का माहवार वार्षिक एकेडमिक कैलेंडर बनाया जाएगा.

बंद पड़े हैं स्कूल-कॉलेज

मालूम हो कि देश में फैली कोरोना महामारी के कारण शिक्षा व्यावस्था ठप्प पड़ी हुई है. स्कूल-कॉलेजों में ताले लगे हैं. फिलहाल सरकार स्कूल खोलने के बारे में विचार भी नहीं कर रही. ऐसे में अब सरकार शिक्षा प्रक्रिया को बनाए रखने के लिए दूसरे विकल्प तलाश रही है. इस दौरान ऑनलाइन क्लास को बढ़ावा दिया जा रहा है ताकि बच्चों का पाठ्यक्रम कवर-अप हो सके.