Uttar Pradesh Exclusive > उत्तर प्रदेश > कोरोना पर काबू के लिए योगी सरकार सख्त, दुर्गा पूजा के सार्वजनिक आयोजन पर रोक

कोरोना पर काबू के लिए योगी सरकार सख्त, दुर्गा पूजा के सार्वजनिक आयोजन पर रोक

0
584

देश में कोरोना वायरस के मामलों में लगातार वृद्धि देखी जा रही है। सरकार लोगों से अपील कर रही है कि वे मामलों की बढ़ती संख्या के प्रति सतर्क रहें। उत्तर प्रदेश में योगी सरकार ने एक महत्वपूर्ण निर्णय लिया है। दुर्गा पूजा (Durga Puja) से लेकर रामलीला तक का आयोजन होता है. इसी बीच यूपी सरकार (UP Govt) ने दुर्गा पूजा को लेकर अहम फैसला किया है.

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने दो प्रमुख आयोजनों दुर्गा पूजा (Durga Puja) और रामलीला (Ramlila) को लेकर गाइडलाइंस जारी की हैं. इस बार सार्वजनिक दुर्गा पूजा (Durga Puja) के आयोजनों पर रोक लगाई गई है. वहीं रामलीला मंचन को लेकर नियम बनाए गए हैं.

नहीं लगेंगे मेले

हर साल दुर्गा पूजा (Durga Puja) के दौरान और दशहरे पर मेले का आयोजन किया जाता था लेकिन इस बार मेले आयोजित नहीं होंगे. सीएम योगी (CM Yogi) ने कहा कि अगर मेला लगेगा तो लोगों की भीड़ जमा होगी और ऐसे में कोरोना वायरस का संक्रमण फैलने का खतरा भी बढ़ेगा इसलिए इस पर रोक लगाई गई है.

मोहर्रम के ताजिये पर लगी थी रोक

गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश में कोरोना संक्रमण का कहर जारी है. प्रतिदिन औसत तीन से चार हजार केस आ रहे हैं. इसके चलते राज्य सरकार हर स्तर पर एहतियात बरत रही है. इससे पहले राज्य सरकार ने मोहर्रम पर भी ताजिये निकालने पर प्रतिबंध लगाया था.

यह भी पढे: प्रवासी मजदूरों को रोजगार देने में यूपी बना नंबर-1, मिला प्रथम पुरस्कार

बच्चियों से छेड़खानी करने वाले अपराधियों के पोस्टर चौराहे पर लगाएं

उत्तर प्रदेश में बच्चियों और महिलाओं के साथ हो रहे गलत व्यावहार को लेकर राज्य की योगी सरकार अब सख्ती से निपटने जा रही है. प्रदेश में अपराध पर लगाम लगाने के लिए योगी सरकार ने नया फरमान जारी किया है. अब राज्य में बच्चियों के साथ रेप करने वाले, छेड़खानी करने वाले और यौन अपराध करने वाले अपराधियों के चौहारों पर पोस्टर लगाए जाएंगे.

मालूम हो कि ये काम उसी तर्ज पर किया जाएगा जैसे नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ प्रदर्शन करने वाले आरोपियों के पोस्टर शहरों के प्रमुख चौराहों पर लगाए गए थे.

यह भी पढे: बिहार चुनाव से पहले तेजस्वी का बड़ा वादा, कहा- 10 लाख युवाओं को देंगे नौकरी

इस आदेश के तहत अब महिलाओं से दुर्व्यवहार करने वालों को महिला पुलिसकर्मियों से ही दंडित कराया जाएगा. सरकार का कहना है कि ऐसा कदम इसलिए उठाया जा रहा है जिससे कि महिलाओं व बच्चियों से दुर्व्यवहार करने वालों को पूरा समाज जान सके.